Swift Code क्या है और आपके Bank का Swift Code कैसे पता करे?

क्या आपको पता है Swift Code क्या है और किसी भी bank का Swift Code कैसे पता करे? क्या आपको पैसे विदेश भेजने हैं या आपके पैसे विदेश से आने हैं? अगर आपका जवाब हाँ है तो ये article ख़ास आपके लिए है. आज के दोर में ये काम करना बहुत ही आसान हो गया है, बस आपको बैंक जाना है और आप बड़ी आसानी से कहीं भी पैसे भेज सकते हैं.

एक blogger होने के नाते में ये समझ सकता हूँ की कितना tension होता है जब आपका Adsense payment आपके account में आते आते रुक जाता है, क्यूंकि ये international Payment है इसलिए इसे कई दोर से गुजरना पड़ता है approval होने के लिए.

इसी tension का नाम है Swift Code, में कहूँगा की ये कोई tension नहीं है बस आपको पता होना चाहिए की ये आकिर है क्या और इसे कैसे प्राप्त किया जाये. मैं आप लोगों को बता दूँ की प्राय सभी International Transaction और Security Transaction के पीछे Swift System का हाथ है.

ये एक बहुत ही बड़ा Messaging Network है जिसे की Banks और Financial Institution इस्तमाल करते हैं पैसे transfer करने के लिए. ये बहुत ही Safe, accurate और secure method है. हर दिन लगभग 10,000 SWIFT Members, approximately 24 Million मेसेज इस नेटवर्क का इस्तमाल करते हैं.

आज हम इस article ये जानेंगे की आकिर Swift Code क्या है और ये कैसे काम करता है. तो फिर देरी किस बात की चलिए शुरू करते है.

Swift Code क्या है (What is Swift Code in Hindi)

SWIFT का Full Form है Society For Worldwide Interbank Financial Telecommunications . ये एक ऐसा Messaging Network है जिसका इस्तमाल Financial Institution करते हैं Securely Information भेजने के लिए standardized system of codes के द्वारा.

Swift Code in Hindi

Swift code के कई नाम हैं जैसे ISO 9362, SWIFT-BIC, SWIFT ID etc. ये सभी codes Business Identifier Codes के Standard Format हैं जिसे की International Organization For Standardization (ISO) ने approve किया है.

यह एक ऐसा code है जिसे की दोनों Financial और Non-Financial Institution इस्तमाल करते हैं. इस code का इस्तमाल पैसे भेजने के लिए होता हैं मुख्य तोर से International Wire Transfer.
ये code 8 से 11 characters के होते हैं.

ExampleBBBBUS3MXXX

  • Bank code A-Z पहला 4 letter code होता है. ये किसी bank के नाम का shortened version जैसे दीखता है.
  • Country code A-Z दूसरा 2 letter code होता है. इससे ये bank किस देश का है ये पता चलता है.
  • Location code 0-9 A-Z तीसरा 2 digit location code होता है जो या तो 2 letters हो सकता है या तो 2 numbers. इससे bank के head office के बारे में जानकारी मिलती है.
  • Branch Code 0-9 A-Z ये Optional 3 digit code होता है. इससे particular branch के बारे में पता चलता है न की bank के head office के बारे में.

किसी भी Bank का Swift Code कैसे पता करे

Swift Code Find

जैसे की मैं पहले से ये बात कह चूका हूँ की आपके Adsense Payment के लिए आपको जरुर Swift Code की जरुरत होती है. तो अब ये बात उठती है की आकिर किसी भी bank का Swift Code कैसे पता करें. तो बिलकुल घबराये नहीं क्यूंकि में आप लोगों की इसी के बारे में बताने वाला हूँ की इसे कहाँ से प्राप्त करें.

यदि आपको Swift Code के विषय में जानना है तब निचे दिए गए steps का पालन करें, जिससे आप कहीं का भी Swift Code आसानी से प्राप्त कर सकते हैं.

Step #1: सबसे पहले आपको इस Swift Code Search Website पर जाना होगा.

Step #2: यहाँ पर आपको आपको निचे Select a Country विकल्प में सही देश का चुनाव करना होगा, जिसे की आप ढूंड रहे हैं.

Step #3: उसके बाद Select a Bank में आपको जरुरत के बैंक का चुनाव करना होगा.

Step #4: वहीँ उसके बाद आपको Select a City में निचे सभी city नज़र आयेंगे, वहां पर आप जिस जगह का Swift Code चाहते हैं उस City को चुनना होगा.

Step #5: ऐसा करते है आपके सामने सभी branches के नाम प्रदर्शित हो जायेंगे, यहाँ पर आपको Select a Branch विकल्प में जरुरत के branch को चुनना होता है.

Step #6: एक बार आपने उसे चुन लिया फिर आपके सामने वो Swift Code आ जायेगा जिसकी आपको तलाश है. उस Swift Code का इस्तमाल अपने सुविधा अनुसार कर सकते हैं.

अगर आपको किसी भी बैंक के SWIFT Code के बारे में जानना है तो आप इस website में जाकर प्राप्त कर सकते हैं. इस website के द्वारा आपको अपने Bank का Swift Code आसानी से पता चल जायेगा.

Swift Code Transfer कैसे काम करता है

ये Swift Transfer कैसे होता है में आज आप लोगों को एक उदहारण देकर समझाता हूँ. मन लीजिये की दो दोस्त हैं A और दूसरा B. A अपने बैंक से B के account को पैसे भेजना चाहता है जो की किसी दुसरे देश में रहता है.

इसके लिए A अपने बैंक को जाता है अपने दोस्त के account number के साथ और उसके दोस्त के बैंक का swift code भी लेता है. जब वह पैसे भेजने को कहता है बैंक वालों से तब बैंक वाले उसके पैसे को Swift Message के द्वारा B के अकाउंट को भेज देते हैं secure SWIFT Network के through.

जब बैंक B वाले यह message पा लेते हैं तब वो अपनी तरफ से ये confirm कर लेते हैं की उन्होंने Payment पा लिया है और वो उस पैसे को B के account में deposit कर लेते हैं.

Note – SWIFT सिर्फ और सिर्फ एक messaging system है, ये कोई भी fund, securities को hold नहीं करता, और न ही ये कोई client को manage करता है.

क्या हम SWIFT Transfer को Track कर सकते हैं

एक customer को swift terminal को access करने की अनुमति नहीं दी जाती. ये काम सिर्फ और सिर्फ आपके respected बैंक ही कर सकते हैं.

अगर आपके किसी Transaction में कोई दिक्कत दिखयी दी है तब आप अपने नजदीकी Bank से संपर्क कर सकते हैं. वो आपके मुस्किल का हल जल्द ही दे देंगे.

Swift Code के पहले की दुनिया कैसी थी

Swift Code से पहले International Transaction करने के लिए Telex का इस्तमाल किया जाता था. Funds Transfer करने का ये बहुत ही धीमा जरिया था. इस system के कई कमियां थी जैसे की ये एक तो काफी slow processing था, दूसरा ये ज्यादा secure नहीं था.

इसमें Swift के जैसे unified system of codes का इस्तमाल नहीं होता था. जिस कारण इसकी transaction processing speed बहुत ही धीमी थी. इसमें sender को सभी transaction को descibe करना पड़ता था sentences के द्वारा और फिर receiver को उन्ही messages को फिर से interpret करके execute करना पड़ता था. इसी काम के दौरान काफी mistakes भी होते थे.

Upstox से पैसे कैसे कमाए?

इन्ही सभी मुश्किलों को हल करने के लिए SWIFT System को बनाया गया सन 1974 में. प्रारंभिक दोर में सबसे पहले दुनिया के 7 major बैंकों ने इसमें भाग लिया. और समय के साथ साथ इसमें कई बैंक ने धीरे धीरे जुड़ा.

SWIFT System सबसे आगे क्यूँ है

इसकी उत्पत्ति के 3 वर्षों बाद ही, Swift membership ने अपनी संख्या को 230 के पर पहुंचा दिया. ये संख्या धीरे धीरे और भी बढ़ रही है.

ऐसी transaction की व्यवस्था तो बहुत हैं जैसे Fedwire, Ripple और CHIPS लेकिन किसी ने भी SWIFT को कभी टक्कर नहीं दे पाई. इसका और एक भी कारण हम दर्शा सकते हैं जैसे की दिनबदिन ये अपने system में काफी बदलाव ला रहे हैं जिससे की इनकी व्यवस्था ज्यादा भरोसे योग्य बन रहा है.

जब पहले इसकी स्थापना हुई थी तब केवल इसमें Payment Instruction ही भेज सकते थे लेकिन आजकल तो इसमे से Security Transaction और Treasury Transaction भी भेज सकते हैं.

एक report के अनुसार Swift Traffic की 50% Payment based Messages ही हैं, लेकिन 43% में Security Transaction मुख्य है और बाकि के traffic में Treasury Transaction सामिल है.

SWIFT System का इस्तमाल कौन करता है?

सबसे पहले SWIFT के founders ने इस नेटवर्क को design इसलिए किया था ताकि इसमें Treasury और उसके correspondent transaction हो सके. इसका Messaging System इतना robust निकला की इसका इस्तमाल को और भी क्यादा बढ़ा दिया गया.

आज SWIFT System का इस्तमाल हर जगह हो रहा है और इसके इस्तमाल करने वाले भी काफी बढ गए हैं. मुख्य रूप से ये इन संस्थाओं के द्वारा इस्तमाल में लाया जा रहा है जैसे

• Banks

• Brokerage Institutes and Trading Houses

• Securities Dealers

• Asset Management Companies

• Clearing Houses

• Depositories

• Exchanges

• Corporate Business Houses

• Treasury Market Participants and Service Providers

• Foreign Exchange and Money Brokers

SWIFT System क्या क्या सर्विस देता है

आज के दोर की बात की जाये तो Swift System का इस्तमाल हर जगह में हो रहा है. मैंने कुछ जगहों हो जिक्र निचे किया हुआ है जहाँ इनका सबसे ज्यादा इस्तमाल होता है.

Applications—SWIFT connections का इस्तमाल variety of real टाइम application को इस्तमाल करने के लिए हो रहा है जैसे treasury और forex transaction, banking market infrastructure में payment instruction को process करने के लिए, सिक्यूरिटी market में payment instruction को clear और settle करने के लिए.

Business Intelligence—SWIFT का इस्तमाल अब Business Intelligence में भी होने लगा है, जिसके मदद से अब client real time, dynamic messages को देख सकते हैं.

इसके साथ साथ वो trade flow और reporting को follow भी कर सकते हैं. Reports की मदद से किसी भी जगह, देश और message types की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं.

Compliance Services— इसकी मदद से अब बहुत से Financial Crime Compliance को report किया जा सकता है. जैसे Know Your Customer (KYC), Sanctions और Anti-Money Laundering (AML).

Messaging, Connectivity, and Software Solutions— SWIFT System का core business है कैसे एक secure, reliable और scalable network बनया जा सके ताकि messages उस network में बड़ी आराम से move कर सके.

SWIFT ऐसे बहुत से product बनाया है जिसकी मदद से client बड़ी आसानी से transactional messages भेज और पा सकते हैं.

Swift Code दिन प्रतिदिन अपने व्यवस्था को upgrade कर रहा है, ताकि वो ज्यादा से ज्यादा client ला सके और अपने transaction processing speed को बढ़ा सके.

ये अब automated transaction processing system का इस्तमाल भी करने वाला है जिससे की इसे आने वाले समय में ज्यादा दिक्कतों का सामना न करना पड़े.

Swift Code System ज्यादा safe और secure होने के कारण यह एक robust system बन गया है जिससे इसमें लोगों की काफी आस्था बन गयी है.

आज आपने क्या सीखा

मुझे पूर्ण आशा है की मैंने आप लोगों को Swift Code क्या है (What is Swift Code in Hindi) और किसी भी Bank का Swift Code कैसे पता करे के बारे में पूरी जानकारी दी और में आशा करता हूँ आप लोगों को इस Banking Term के बारे में समझ आ गया होगा.

मेरा आप सभी पाठकों से गुजारिस है की आप लोग भी इस जानकारी को अपने आस-पड़ोस, रिश्तेदारों, अपने मित्रों में Share करें, जिससे की हमारे बिच जागरूकता होगी और इससे सबको बहुत लाभ होगा. मुझे आप लोगों की सहयोग की आवश्यकता है जिससे मैं और भी नयी जानकारी आप लोगों तक पहुंचा सकूँ.

मेरा हमेशा से यही कोशिश रहा है की मैं हमेशा अपने readers या पाठकों का हर तरफ से हेल्प करूँ, यदि आप लोगों को किसी भी तरह की कोई भी doubt है तो आप मुझे बेझिजक पूछ सकते हैं. मैं जरुर उन Doubt का हल निकलने की कोशिश करूँगा.

आपको यह लेख Swift Code कैसे पता करें कैसे लगा हमें comment लिखकर जरूर बताएं ताकि हमें भी आपके विचारों से कुछ सीखने और कुछ सुधारने का मोका मिले.

Adarsh Pandey
Adarsh Pandeyhttps://techjugut.com
Hi! I'm Adarsh Pandey and I'm here to post some really cool stuff for you. If you have any ideas or any requests please get [email protected], you can also Follow me on instagram! 💗

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here