एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?

दोस्तों आप कहीं ना कहीं तो एटीएम का इस्तेमाल करते ही होंगे लेकिन क्या आपको पता है कि एटीएम क्या है? मतलब की एटीएम का फुल फॉर्म क्या है? अगर आपको इसके बारे में नहीं पता है तो कोई बात नहीं इस लेख में मैं आपको यही बताने वाला हूं कि एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?, ATM का Full Form क्या है? ATM Full Form in Hindi.

आज के समय में ATM का इस्तेमाल सभी लोग किया करते हैं. लेकिन उन्हें यह नहीं पता होता कि एटीएम का फुल फॉर्म क्या है? बस उन्हें एटीएम का इस्तेमाल करना आता है. लेकिन आज के समय में अगर आप ATM के बारे में नहीं जानते तो यह आपके लिए अच्छी बात नहीं है. आपको एटीएम के बारे में सभी जानकारियों को जानना चाहिए. इसलिए मैं आपको ATM से जुड़ी सभी जानकारियों को बताऊंगा.

अक्सर ATM Ka Full Form सभी परीक्षाओं में पूछे जाते हैं. अगर आप किसी भी परीक्षा में बैठते हैं तो वहां पर अगर आपको एटीएम का फुल फॉर्म नहीं पता होता है. तो आप का प्रश्न वहां पर गलत हो जाता है. इसीलिए आपको एटीएम के बारे में तो पता होना ही चाहिए. क्योंकि यह बहुत ही महत्वपूर्ण प्रश्न है और यह सभी जहां पूछे जाते हैं.

एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?

आज के समय में 80 परसेंट लोग एटीएम का प्रयोग करते हैं लेकिन अगर आपको ATM का Full Form क्या है? के बारे में नहीं पता है तो नीचे मैं आपको बताता हूं.

A – Automatic
T – Teller
M – Machine

ATM का फुल फॉर्म “Automatic Teller Machine” होता है. अगर हम इसका हिंदी में मतलब निकालें तो इसका मतलब होता है ” स्वचालित गणक मशीन ” या इसे हम “स्वचालित बताने वाली मशीन” भी कहते हैं अगर आप ही थे Google Translate करेंगे तो उसमें इसका मतलब यही दिखाएगा. आप यहाँ से कंप्यूटर का फुल फॉर्म के बारे में जान सकते है.

ATM एक ऐसी मशीन है जिससे आप बिना कहीं लाइन लगाए आसानी से पैसा निकाल सकते हैं. इससे आपका बहुत सारा समय बच जाता है. क्योंकि जब आप पैसा निकालने बैंक में जाते हैं तो वहां पर आपको पहले लाइन लगानी पड़ती है. फिर जाकर आप कहीं पैसा निकाल पाते हैं. लेकिन एटीएम ने सभी कामों को बहुत ही सरल कर दिया है. अगर आपके पास एटीएम है तो आप बिना लाइन लगाए ATM Machine से पैसा निकाल सकते हैं.

एटीएम मशीन को सभी लोग Any Time Machine के नाम से जानते हैं. लेकिन सही फुल फॉर्म इसका कुछ और ही है. उसे मैं आपको नीचे समझाता हूं.

अगर हम बात करें दूसरे देशों में तो कनाडा में एटीएम को ABM (Automatic Banking Machine) के नाम से जाना जाता है.  ऐसे ही दूसरे दूसरे देशों में अलग-अलग नामों से एटीएम को जाना जाता है जैसे कि Cash Point, Cash Machine, Mini Bank और “Hole in the wall”. अब तो आप एटीएम का फुल फॉर्म जान ही चुके होंगे. तो चलिए मैं आपको एटीएम से जुड़े कुछ और भी जानकारियां दे देता हूं. जो आगे चलकर आपके लिए फायदेमंद हो सकता है.

आप पढ़ रहे है: एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?

ATM क्या है?

एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?
एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?

एटीएम एक ऐसी मशीन है, जिसने जिंदगी को बहुत ही आसान बना दिया है. यहां कहने का मतलब है कि अब आपको कहीं भी किसी भी बैंक में जाकर लाइन लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी. आप एटीएम के मदद से बिना लाइन लगाए पैसे निकाल सकते हैं. जिससे आपका काफी समय बच जाएगा और आपका टाइम बर्बाद नहीं होगा. ATM एक electronic telecommunications device है जिसका उपयोग हम पैसा निकालने, पैसा जमा करने, फंड ट्रांसफर करने जैसे सभी कामों के लिए करते हैं.

ATM के Parts क्या हैं?

दुनिया भर में एटीएम को अलग तरह से डिजाइन किया गया है लेकिन उनके कुछ बुनियादी हिस्से हैं. वैसे तो एटीएम मैं दो प्रकार के उपकरण होते हैं:

1. Input Device
2. Output Device

Input Device of ATM Machine

Keypad: एक कीपैड होता है जिसमें ग्राहक को वह जानकारी टाइप करनी होती है जो मशीन लेनदेन के लिए पूछती है.

Card Reader: एक कार्ड रीडर मौजूद है जिसमें कार्ड को शीघ्र ही डाला जाना है जिसके बाद डिस्प्ले भाषा, लेनदेन विवरण और ग्राहक आईडी या पिन जैसे कुछ विकल्प दिखाता है, जिसके बाद व्यक्ति अपने खाते तक पहुंच सकता है.

Output Device of ATM Machine

Cash Dispenser: कैश डिस्पेंसर मौजूद है जिसके माध्यम से नकद एकत्र किया जा सकता है। बैंक अधिकारी ग्राहक के लेन-देन के लिए कैश को मशीन में सुरक्षित रखते हैं.

Receipt printer: एक रसीद प्रिंटर मौजूद है जो एक शीट को प्रिंट करता है जो लेनदेन विवरण प्रदर्शित करता है.

Display Screen: एक डिस्प्ले स्क्रीन है जो कंप्यूटर मॉनीटर की स्क्रीन की तरह दिखती है.

Speaker: एक स्पीकर जिसके माध्यम से मशीन तक पहुंच के निर्देश सुने जा सकते हैं.

ATM के कौन से लाभ होते हैं?

अगर आपके पास इतना समय नहीं है कि आप किसी भी बैंक में जाकर लाइन लगाकर पैसा निकाले तो आप वहां पर एटीएम का प्रयोग कर सकते हैं कहने का यह मतलब है कि अगर आपके पास एटीएम कार्ड होता है तो आप बिना किसी बैंक जाए सिर्फ एटीएम मशीन से ही पैसा निकाल सकते हैं इसमें आपका समय बहुत ही बच जाएगा और साथ ही बिना लाइन में खड़े हुए भी पैसा आप निकाल सकते हैं तो चलिए मैं इसके कुछ लाभ बताता हूं जो कि निम्नलिखित दिए गए हैं.

  • आप बिना किसी ब्रांच जाए कहीं से भी पैसा निकाल सकते हो मान लीजिए अगर आप उस स्थान पर नहीं होते हैं जहां आपका बैंक खाता है तो आप एटीएम के मदद से कहीं से भी पैसा निकाल सकते हैं.
  • जब आप विदेश में हों तब भी आप पैसे निकाल सकते हैं। आपको कुछ विदेशी शुल्क का भुगतान करना पड़ सकता है, लेकिन इससे किसी विदेशी भूमि में वित्तीय संकट नहीं होता है.
  • आप करों, उपयोगिता बिलों या बीमा प्रीमियमों का भुगतान भी कर सकते हैं, बशर्ते कि आप अपनी बैंक खाता शाखा में इन लाभों का लाभ उठाने के लिए पंजीकृत हों.
  • अगर आपके पास नेट बैंकिंग नहीं है तो आप बैलेंस चेक कर सकते हैं या पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं.
  • इसी तरह, आप रेलवे टिकट भी बुक कर सकते हैं या अपना मोबाइल फोन रिचार्ज कर सकते हैं.
  • एटीएम की मदद से आप घर बैठे ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं मतलब कि आप फ्लिपकार्ट या अमेजॉन जैसे दूसरे वेबसाइट से आसानी से घर बैठे ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं.
  • आप इन लाभों का लाभ 24×7, 365 दिनों में देश के किसी भी हिस्से में उठा सकते हैं.

आप पढ़ रहे है: एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?

ATM Ka Full Form in Hindi

इतना सब कुछ जानने के बाद मैं आपको एटीएम का फुल फॉर्म हिंदी में बताने की कोशिश करता हूं. वैसे तो एटीएम का फुल फॉर्म “ऑटोमेटिक टेलर मशीन” होता है और इसे हम सब आसान भाषा में एटीएम कहते हैं.

– स्वचालित
टी – टेलर
– मशीन

ATM काम कैसे करता है?

अगर आपके पास एटीएम है तो आपने कभी ना कभी तो पैसा निकाला ही होगा. परंतु आपकी मन में यह सवाल जरूर आया होगा कि आखिर एटीएम काम कैसे करता है? तो चलिए मैं इसके बारे में आपको जानकारी दे देता हूं.

ATM काम कैसे करता है?
ATM काम कैसे करता है?

जब आप एटीएम मशीन से पैसा निकालने जाते हो तो सबसे पहले आपको अपना एटीएम कार्ड उस मशीन के अंदर स्वाइप कराना रहता है किसी किसी मशीन में आपको एटीएम कार्ड को अंदर डालना रहता है मतलब कि जब तक आपका पैसा निकल नहीं जाता तब तक आप एटीएम वहां से नहीं निकाल सकते हो अब एटीएम स्वाइप करा देने के बाद आपको वहां पर 4 डिजिट वाला अपना पिन नंबर लिखना होता है जो कि आपने पहले से ही बनाया हुआ रहता है.

आप जैसे ही आप अपना पिन नंबर वहां पर दर्ज करते हैं तो आपके सामने बहुत सारे विकल्प आ जाते हैं अब उनमें से विकल्प कुछ ऐसे होते हैं जैसे कि Balance Check, Withdrawal, Mini Statement, Pin Change, Mobile Number Registration.

अब मान लीजिए आप इन विकल्प में से withdrawal विकल्प का चुनाव करते हैं. तो इसके बाद आपसे पैसा पूछा जाता है मतलब कि आप जितना रुपया एटीएम से निकालना चाहते हैं वहां पर आप दर्ज कर दीजिए. इसके बाद आपका प्रोसेस शुरू हो जाएगा और कुछ सेकंड बाद एटीएम मशीन से आपने जितना पैसा लिखा था उतना पैसा निकल जाएगा. बस इसी प्रकार से एटीएम मशीन काम करता है और या टेक्नोलॉजी आज के समय में बहुत ही अच्छा है.

आप पढ़ रहे है: एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?

ATM के प्रकार

अब चलिए हम कुछ ATM के प्रकार के बारे में जानते हैं. यहां पर आपको पूरी डिटेल में ATM के प्रकार के बारे में नहीं बताएंगे. लेकिन हां हम आपको उसके कुछ ATM के बारे में जरूर बताएंगे चलिए आगे जानते हैं.

1. White Label ATM
2. Yellow Label ATM
3. Brown Label ATM
4. Orange Label ATM
5. Pink Label ATM
6. Green Label ATM
7. BioMatric ATM

एटीएम का आविष्कार कब और किसने किया

एटीएम के आविष्कार का असली श्रेय Luther George Simjian नाम के एक अमेरिकी नागरिक को जाता है. 1939 में उन्होंने एटीएम की अवधारणा वाली एक मशीन तैयार की थी, जिसका नाम उन्होंने बैंकमैटिक रखा. शुरुआत में किसी ने भी एटीएम को स्वीकार नहीं किया और यह आविष्कार सफल नहीं रहा लेकिन बाद में इसमें कुछ बदलाव किए गए जिससे बहुत से लोग इस आविष्कारक का नाम नहीं जानते और लोगों को पता नहीं है कि एटीएम का असली विचार उसी से था.

आप पढ़ रहे है: एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?

  • अब ऐसा माना जाता है कि एटीएम का सबसे पहले उपयोग लंदन और न्यूयॉर्क में हुआ था.
  • इसके चलते कुछ समय बाद जापान में 1966 में इसका प्रयोग किया गया.

एटीएम का हिंदी नाम

अगर हम इसका हिंदी में अर्थ लेते हैं, तो इसका अर्थ है “स्वचालित कैलकुलेटर मशीन” या हम इसे “स्वचालित गणना मशीन” भी कहते हैं. आप पढ़ रहे है: एटीएम का फुल फॉर्म क्या है?

Atm full form in chemistry

रसायन विज्ञान में atmospheric pressure दबाव का खड़ा है। इसे वायुमंडल के भार के दबाव के रूप में परिभाषित किया जाता है, जिसका समुद्र तल पर औसत मान 101,325 पास्कल (लगभग 14.6959 पाउंड प्रति वर्ग इंच) होता है.

आज आपने क्या सीखा

तो दोस्तों आपको यह आर्टिकल कैसे लगा और मैंने इस आर्टिकल में आपको एटीएम का फुल फॉर्म क्या है? मैं विस्तार से समझाया हुआ है| जिससे कि आप पूरी तरह से इस आर्टिकल को समझ पाए .

हमें उम्मीद है कि आपका जो समस्या था या आपका जो प्रश्न था एटीएम का फुल फॉर्म क्या है समस्या है इस आर्टिकल को लेकर या आपको कोई परेशानी है अपने प्रश्नों को लेकर दो नीचे कमेंट जरूर करें हम आपको सही निर्देश देने की हर तरह से खूबसूरत करते रहेंगे। ATM का Full Form क्या है?

आज के इस आर्टिकल में हमने यह सिखा कि एटीएम का फुल फॉर्म क्या है? आप हमें कुछ भी सुझाव दे सकते हैं और हम उस पर खरा उतरने का पूरा प्रयास करेंगे और जब आप हमें कोई भी सुझाव देंगे तब हमें बहुत खुशी होगी.

अगर आपको इस आर्टिकल से जानकारी अच्छे से मिल गई हो तो कृपया करके इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर करना ना भूले। आप इस आर्टिकल को Facebook, Twitter, Instagram,‌ Whatsapp या अन्य सोशल मीडिया पर शेयर कर सकते हैं.

https://techjugut.com

Hi! I'm Adarsh Pandey and I'm here to post some really cool stuff for you. If you have any ideas or any requests please get [email protected], you can also Follow me on instagram! 💗

Leave a Comment